Logo
Transcribe
321 7:00 बजे तक साथ में आप सबका स्वागत है यह सीरीज है इंटरेस्टिंग लोगों के साथ बातचीत करने की इस सीरीज में अक्सर हम 7:00 बजे मिलते हैं कि इंटरेस्टिंग व्यक्ति से और उनसे समझने की कोशिश करते हैं कि वह अपने जीवन में क्या कर रहे हैं और क्या उन्हें इंस्पायर करता है किसके बारे में पास नेट है जिसको सुनकर लोग अपने जीवन के बारे में कोई दिशा पास सके या फिर कोई डॉट सुन के लिए कनेक्ट हो सके या फिर सिंपली एक मजेदार बातचीत का हिस्सा बन जाए और आज हमारे साथ एक बहुत ही ज्यादा इंटरेस्टिंग व्यक्ति हैं जनरल मेरी मजबूरी होती है कि इस शो में कोई भी आता है उसको मुझे इंटरेस्टिंग ही बोलना होता है आज मिहिर के लिए खास तौर पर मैं यह सब पूरे दिल से बोल रहा हूं और उसके लिए मैं आपका ध्यान आकर्षित करना चाहूंगा कि आप के स्क्रीन पर अमीर की प्रोफाइल लिंक देख रही होगी तो उसका बायो जरूर पढ़ें नहीं रे स्कूल वॉकआउट है एंड ही डिफाइन सिम सेल्फ डिफेंस फॉर एनीमल इन फर्स्ट सेंचुरी लर्निंग थ्रू रियल लाइफ इंटर डिसीप्लिनरी प्रोजेक्ट बायो अगर इंटरेस्टिंग नहीं है तो फिर क्या इंटरेस्टिंग भी जानता हूं उसके आइडिया और उसके बिलीव न्यू एजुकेशन पॉलिसी जितने लोगों को रेडिकल लग रही है उससे भी काफी ज्यादा रेडिकल हैं और इंटरेस्टिंग भी है वह बच्चों के साथ सीधा काम करता है और मुंह क्यों ऐसा करता है उसने एक बार मुझे बहुत अच्छे तरीके से बताया था जो आज मैं सिर्फ फिर से शेयर करने के लिए कहूंगा और बिना किसी देरी के बिना और ज्यादा फुटेज खाए मैं अमीर को स्वागत करता हूं और उस से रिक्वेस्ट करूंगा कि वह थोड़ा सा अपने बारे में बताएं हमें रे सुनने वालों को नमस्ते थैंक यू फॉर इनवाइटिंग में ही है एक तो बहुत अच्छा प्लेटफार्म है यह लोगों से जुड़ने के लिए और अपनी बात शेयर करने के लिए ऐसा लग रहा है तो मैं बहुत खुश हूं कि आज टेक्नोलॉजी की मदद से हम अपने विचारों को बहुत सारे दूसरे इंटरेस्टिंग लोगों तक पहुंचा पाने की क्षमता रखते हैं तो मेरे बारे में थोड़ा बहुत पता हो तो मैं गुजरात के बड़ौदा में छोटा सा गांव है पादरा करके वहां पर मेरा जन्म हुआ और वहां की गुजराती मीडियम की स्कूल में मैं 10th स्टैंडर्ड तक पढ़ा और वहां से पूरी चलनी शुरू हुई और आज में बच्चों के साथ काम कर रहा हूं तुम्हें दसवीं के बाद फॉर्मल स्कूलिंग में गया नहीं हूं मतलब गया हूं पर नहीं गया हूं वैसी वाली बात है कि मैं दसवीं के बाद पहली बार बड़ौदा सिटी में गया और सिटी में जाते ही कुछ अलग चीजें मुझे दिखने लगेगी यार यह दुनिया बहुत बड़ी है बहुत इंटरेस्टिंग काम हो रहा है यहां पर तुम्हें इंटरेस्टिंग कामों में जुड़ता गया मैंने अपने वेकेशन में ही बिजली कुछ कुछ नई चीजें सीखना शुरू की तो मैं पहले अपने अभी के काम के बारे में थोड़ा सा बताता हूं बाद में मैं थोड़ा सा फास्ट में जाता हूं वीटो के मनोहर फिर भी मैं चाहूं मैं मैं जहां तक तुम्हें जानता हूं तुम नहीं आई थी विनम्र आदमी हो इसके लिए मुझे थोड़ा तुम्हें दबाव दे दे कि तुम हमसे बातें नहीं करवानी पड़ेगी अभी तुमने कहा तुमने 10th के बाद में हां पढ़ाई कर ली तुमने 10th क्लास के बाद डिसाइड किया कि मैं एलिमेंट ग्रेजुएशन यह सब झंझट नहीं करूंगा हां पीके वेकेशन में मैं बरोड़ा सिटी में गया पहली बार और तब जाकर देखा कि यार बहुत इंटरेस्टिंग काम यहां पर हो रहा है सबको ही तो कोई टेक्नोलॉजी में काम कर रहा है कोई मार्केटिंग में काम करें तो ऐसे फील्ड होती है नौकरियां होती है यहां पर इंग्लिश की बड़ी बोलबाला है यहां पर यहां पर एमबीए किए हुए लोग हैं तो उसे देख रहा था और मुझे पर्सनली टेक्नोलॉजी और वेबसाइट बनाने में थोड़ा सा मजा आने लगा वह दिखने लगी यार यह चीज नहीं है और लोग इस से बहुत प्रभावित होते तो मैं करने गया था एक छोटा सा कोर्स मेडिटेशन का नाम नहीं लेना चाहिए था मेडिटेशन करने गया था और मुझे तो पता नहीं था कि इस कोर्स के पैसे भी देने पड़ते 7 दिन के कुछ 15 सो ₹2000 देने पड़ते तो मेरे घर तो एकदम लोअर मिडल क्लास फैमिली से मैं आता हूं और मेरे घर पर पता चलता कि वह मेडिटेशन के पैसे देने हैं ₹2000 तो तो कभी नहीं भेजा तो फिर मैंने जो भी अजीब था उनको थोड़ा रिक्वेस्ट किया कि यार मैं तो मैं नहीं कर पाऊंगा की फीस मुझे पता ही नहीं था आप कुछ और इसका इलाज बता सकते हो और कोई भी है क्या मैं वैलेंटाइन कर लूंगा मैं कुछ भी आपके लिए काम कर लूंगा पर पैसे नहीं दे पाऊंगा तो थोड़े अच्छे लोग थे और उन्होंने बोला कि यार क्या कर पाओगे आप तो मैं बोला मैं थोड़ा सा लिख लेता हूं ट्रांसलेशन कर लेता हूं अगर वो ट्राई करना हो कहीं पर आपके जरूरत हो तो उन्होंने बोला कि हमारी एक वेबसाइट है अंग्रेजी में है उसका गुजराती वर्जन बनाना है तो अगर तुम उस में हेल्प कर पाओ तो अच्छा रहेगा तो मैंने देखा कि यार यह व्यक्ति जो चीज है वह बड़ी इंटरेस्टिंग है और इससे काफी सारे लोगों तक पहुंचा जा सकता है इट्स इट्स वेरी गुड मीडियम और वह सब देखने लगा मैं और मुझे पहली नजर में प्यार हो गया उस टेक्नोलॉजी से और मैंने लोगों से पूछा है लोगों से पूछना शुरू किया कि यार यह कैसे कैसे आते वेबसाइट कौन बनाता है इसको कैसे क्या-क्या होता है कितने पैसे लगते हैं तो कोई तो मुझे बोला कि यार इसको सीखने के लिए कंप्यूटर इंजीनियरिंग करना पड़ता है कोई बोला नहीं नहीं हम तो ऑन जॉब जाकर सीखते कंप्यूटर इंजीनियर से पूछा कि आप आपके कोर्स में है यह कैसे मुझे थोड़ी बुक्स मुक्त A2 मैं शायद पढ़कर सी का कोर्स बहुत पुराना है उसमें वेबसाइट डेवलपमेंट सिखाई नहीं जाता हमको ऑन जॉब जा कर सकते तो बोला ठीक है तो फिर ऑन जॉब तो कैसे जाए तो मैंने एक आईडिया निकाला कि मैं क्या करता था जो भी वेबसाइट बनाने वाली ऑफिस ही सोची थी उसमें मैं जाता था और उनको बोलता था मेरे पापा का बहुत बड़ा बिजनेस और उनको एक वेबसाइट बनानी है तो आप थोड़ा तो बताओ कैसे होता है क्या कॉन्टेंट लगता है क्या कैसे काम होता है तो वह थोड़ा सा बताते थे कि डोपिंग होता है उसमें से पांच तक नहीं आती ऐसे फोटोस लगेंगे कांटेक्ट लगेगा तुम्हारे बिजनेस के बारे में थोड़ा बताओ हम लिखकर सब करेंगे पूरा प्रेजेंटेशन दे देते तो ऐसे कस्टमर मुझे समझाते थे और मैं नोट बना कर लिख लेता तुम्हें अपने लोगों को फोन किया तुमने उनको देखने के लिए तुमने ऐसे ऐसे मीटिंग्स ऑर्गेनाइज की जहां पर तुम उनसे सीख रहे हो बेसिकली इस तरीके से हुई ऑफिस पर हिट पांचवी ऑफिस में लग गया और मुझे वह जो सामने वाला बंदा था उसने पकड़ लिया कि भाई तू जगदंबे के छोटे गांव में पर आए और ऐसी बड़ी ऑफिस पर कभी गया नहीं था पर अपने कॉन्फिडेंस आई था पर अभी तो पकड़ लिया तब तो एकदम नीचे बैठ गया अब क्या करेगी कैसे होगा तो उसने बोला कि डरो मत मैं कुछ करुंगा नहीं तुम्हें पर चीज यह है कि तुम झूठ क्यों बोल रहे हो बताओ तो मैंने बोला मुझे तो सीखना है पर कोई सिखाने रहे कोई बोल रहा है इंजीनियरिंग करो कोई बोल रहा है वन जॉब कैसे जाऊं तो यह चीज की टेंशन मत लो मैंने देखा कि तुम्हारी मार्केटिंग की अच्छी है तुम कॉन्फिडेंस अच्छा लैंग्वेज भी अच्छी है तुम एक काम करो हमारे लिए कॉन्ट्रैक्ट लेकर आओ बेटा की मार्केटिंग करो तुम और बाजार में जाओ घूमो 23 वेबसाइट बनाने के कॉन्ट्रैक्ट लेकर आओ हम तुम्हें 10% कमीशन देंगे और प्लस हमारे ऊपर के साथ बैठने का मौका देंगे के साथ बेड पर क्यों जो देखकर सीखते को सीख लेना तो ऐसी ऑफर मुझे उस बंदे ने की थी इस तरह से करके देखो अगर तुम्हें पसंद आता है तो मैं तो खुशी के मारे एकदम कोई जॉब तेरे को तैयार है मुझे लाइक कर कपड़े की कीमत 10% कमी से लगाकर 5000 की वेबसाइट कॉन्ट्रैक्ट लाता हूं तो मिल जाएंगे मुझे एकदम खुश हो गया के बाद भी कुछ भी हो सकता है कुछ कर इस तरह से ही शुरू है दसवीं का जो 2 महीने का वैकेशन होता है पूरा दो ढाई महीने का उसमें मैंने लगभग तो 8 से 10 वेबसाइट्स का कॉन्ट्रैक्ट में उनके लिए लेकर आया और उसके जो आप ऐसे मिले वह अलग और सीख लिया मैंने 2 महीने में कैसे वेबसाइट बनता बेसिक जो एलिमेंट्स होते वर्डप्रेस झूला झूले से जो यह मैच होते कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम इसको बोलते प्रोग्रामिंग नहीं करनी होती आपको कांटेक्ट डालना हो तो थोड़े से पंडाल में होते तो भेज देता है तो उससे मैंने सीखने की शुरुआत किस तरह से वेबसाइट बनता है और यह फर्स्ट स्टेप मेरी जर्नी का हुआ कि भाई मेरे पास एक स्टील आ गई मैं अभी बाजार में खड़ा रहकर बोल सकता हूं कि मैं दसवीं का बच्चा हूं पर मैं पैसे भी कमा सकता हूं और कुछ भी मतलब मेरा कॉन्फिडेंस a10x हो गया एकदम की भी कुछ हो सकता है जो आप बता रहे थे कि हां मैंने 12थ भी नहीं किया और ग्रेजुएशन भी नहीं किया तो फिर ऐसा ही हुआ कि मेरे को दसवीं के बाद दूसरा जो इंटरेस्ट था वह यह था कि भाई मुझे बैटरी लिखना मुझे ड्रामा करना थिएटर और मुझे साइकोलॉजी पढ़ ना वह सब बहुत पसंद था तो मैंने दसवीं का रिजल्ट है एक एक तरफ गलती से अनफॉर्चूनेटली थोड़े अच्छे परसेंटेज आ गए तो घर पता नहीं था कि मुझे पता था कि अच्छे परसेंटेज आने पर क्या होता है कि लोग फिर आपको साइंस में धकेल देता था कि मुझे गुजराती लैंग्वेज और साइकोलॉजि में बीए करना है ठीक है उसने आगे जाना इसलिए मैं 11वीं 12वीं में भी आर्ट्स लूंगा तो मेरे पापा को लेने नहीं आ रही है कैसी बात हो गई हमारे घर में सब इंजीनियर है तुम भी इंजीनियर बनोगे टेक्निकल स्किल बीमारी है और ऐसा क्यों वह तो जो फेल होते हैं कम परसेंटेज आते हैं लोग जाते तुम क्यों जाओगे उसमें क्या जॉब मिलेगी मतलब एसएसआर एकदम ना क्या बोलते हैं उन्हें उनकी एक बांध तोड़ दिया उन्होंने बहुत सारा पानी भर गया मुझ पर बहुत सारे सवालों का पानी बहने लगा कि भाई इतने सारे बीएड किए हुए लड़के घूमते रहते बीकॉम एमकॉम करे हुए घूमते रहते हैं उनको जवाब नहीं मिलता है तुम्हें कैसे मिल जाएगा हम हम ऐसे ऐसे तो सोफिया पढ़ाई करने वाले थोड़ी लोग हैं कि खाली शौक के लिए पढ़ लिया गुजराती लिटरेचर क्या उखाड़ लोगे गुजराती लिटरेचर कब शुरू होगा तो मैं बोला मेरे पापा नहीं सब शुरू किया और मेरा मतलब को फैमिली के साथ मतलब मैं घर पर बहुत इंट्रोवर्ट था बाहर बहुत आउट आउट व्हाट्सएप से बाहर बाहर बोलो तो मैं कुछ भी बोलूं घर के बाहर कैसे निकलता था मैं डॉन बन जाता तो घर में आकर बिल्ली म्याऊं जाते मुझे कुछ नहीं होता फिर वहां पर तुमने अपने पापा से अपनी बात अच्छे से नहीं कर कर पाया कि भाई मैं क्यों दिए करना चाहता हूं यह क्यों आर्ट्स में जाना चाहता हूं क्योंकि मेरे पास कोई रिजल्ट नहीं था ऐसे जिससे मैं कंफ्यूज कर पाऊंगा बस मुझे तो पसंद था यह मेरा इंटरेस्ट था उसके सिवा और कुछ नहीं था और यह भारत में इंटरेस्ट है तो कुछ नहीं चलता आपको रीज़न देने पड़ते हैं पर मुझे मैंने डिसाइड किया था कि भाई मैं ऐसी स्कूल पसंद करूंगा जिस में अटेंडेंस का कोई प्रॉब्लम ना हो और फीस कम से कम हो तो तो मैंने बरोड़ा में जाकर थोड़ी सी खोजबीन की की ऐसी स्कूल कहां पर है और फिर दोस्तों से पूछा हमने बोला कि यह कुछ नया कॉन्सेप्ट स्कूल शुरु हुआ है उन लोगों को विद्यार्थी चाहिए कुछ नहीं तो उस में जुड़ जाते साथ में मिलकर कुछ ना कुछ कर लेंगे तुम्हें मतलब ऐसे स्कूल देखा है कि भाई टीचर्स को अच्छे कोई अटेंडेंस वाली प्रॉब्लम नहीं होगी चल जाएगा अपना काम अपने पढ़ाई करना शुरू किया तो मैं क्या करता था घर से निकलता था स्कूल जा रहा हूं ऐसा कहकर और मैं स्कूल जाता नहीं था मैं बीच में खाली एक या 2 दिन को भी जाता था बाकी के टाइम में यह जो वेबसाइट का काम है वह मैं करता तो मैंने दो बंदे रखी है अपने साथ कंप्यूटर इंजीनियरिंग वाले और मैं मैंने एक छोटी सी ऑफिस रेंट पर रखी थी और हम साथ में मिलकर यह धंधा हमने शुरू किया वेबसाइट बनाने का कोई रजिस्ट्रेशन नहीं कोई कंपनी रजिस्टर नहीं की थी कुछ भी नहीं हम लोग मैं मार्केटिंग करता था यह बंदे डाउनलोडिंग करते थे मैं उनके साथ डर लगता था वह मेरे साथ मार्केटिंग सकते तो समथिंग डेट और हम लोग सब कुछ ब्रांडिंग से लेकर ई-कॉमर्स वेबसाइट से लेकर सब कुछ बनाते थे लर्निंग सॉफ्टवेयर से लेकर तो सब तरह के काम हम लोग वहां पर करते थे वैसे भी कमाते थे और उन पैसों से मैं बहुत सारी भूख लगा है मुझे पढ़ने का बहुत शौक था तो मैं मैं क्रॉस वर्ड में जाकर मिक्स तू साहित्य गुजराती में सस्ता साहित्य मंदिर का किस जगह है वहां पर बहुत सस्ती बुक्स मिलती है तुम्हें वहां पर जाकर डिस्काउंट में बहुत सारी बुक्स ले आता था और वह सब मिलकर पढ़ते थे तो उनको भी पढ़ने का शौक था वह बहुत सारा रिसर्च अलग-अलग चीजों का करते थे इसमें क्या कर सकते नया-नया अब इसमें कौन सी नई टेक्नोलॉजी सारी मीडिया का यूज कैसे कर सकते हैं और डिजाइन थिंकिंग क्या होता है तो पहली बार मैंने डिजाइन थिंकिंग 2012 2011 में सुना था कि ऐसी कोई चीज से पूरी चीजें प्रोटोटाइप इन इलेवंथ में बहुत स्टार्टअप्स बना रहे लोग नौकरिया छोड़ छोड़ के ड्रॉपआउट ओके व्हाट्सएप स्टेटस बनाते हो तो मेरे दिमाग में फिक्स था कि मुझे एक तरफ सोशल वर्क जाने का भी थोड़ा सा इंटरेस्ट आ गया था कि यार यह सब तो पैसे कमाने के रास्ते मुझे पैसे नहीं कमाए मुझे तो थोड़ा अलग काम करना है मैं पैसे क्योंकि आख़िर में तो देख रहा हूं पैसे कमा कर सब लोग टेंशन में ही घूम रहे हैं सब सब को फिर सबको फिर हिमाचल में जाकर अपना एक घर बनाकर वहां पर रहना होता है तो फिर इतना बड़ा स्टार्टअप क्यों करते हो वहीं पर जाना है तो वह घूमता रहता था तो मैं वॉलंटरी खूब करता था रामकृष्ण मिशन में दूसरे भी रोटरी क्लब में जाकर फिर दूसरी काफी सारी ऐसी एनजीओ से छोटे छोटे होते स्कूल सोते हैं वहां पर जाकर वॉलंटरी करना कर रहा था तो रामकृष्ण मिशन के जो स्वामी जी थे उनसे पूछता था कि सर जी एक बात तो आप बोलते हो की सेवा करनी चाहिए सेवा करनी चाहिए पर इस चीज के लिए कितना मेहनत करना पड़ता है देखो पहले पढ़ाई करनी पड़ती है फिर आपको नौकरी लेनी पड़ती है फिर पैसे कमाने पड़ते आपको घर बसाना पटसीर रिटायरमेंट में आप बोलते हो कि सेवा करो सपोर्ट नहीं है क्या आपको अल्टीमेट सेवा ही करनी है तो पहले से क्यों नहीं है स्वामी जी मुझे तुम्हें सर कल तो कंप्लीट करना ही पड़ता है वगैरह वगैरह वगैरह सारे लोग तो ऐसे चलता और मुझे एक वहां पर जो पॉइंट आया जब मेरे से बोर कर रहा था तब मैंने दो चीजें मेरे मेरे मेरे लाइफ के बारे में या मेरी सेल्फ के बारे में मुझे पता चले कि भाई मुझे जो क्रिएटिव एक्सप्लोरेशन है जैसे की वेबसाइट डिजाइन करना है उसमें कांटेक्ट लिखना बनाना वह हो गया फिर यह जो ड्रामा थिएटर हो क्या फिर इस कहानियां लिखना आर्टिकल्स लिखना अब होगया फिर यह सब चीज मुझे बहुत पसंद थी तो क्रिएटिव एक्सप्रेशन और इसी दौरान मुझे पता चला कि मुझे बच्चों के साथ काम करना भी पसंद है क्योंकि मैं बच्चों के साथ रहकर यह सारी चीजें कर सकता हूं क्रिएटिव एक्सप्रेशन कर सकता हूं तो थी कि भाई कोई ऐसा कोर्स मिल जाए या कोई ऐसे ही पढ़ाई मतलब मुझे पढ़ाई नहीं करनी थी ऐसा नहीं था तो मुझे ऐसा कुछ चाहिए था जिसमें सब कुछ मिले तो मुझे मुझे थियेटर टेक्नोलॉजी भी पसंद है तो मुझे कोई पसंद तो मैं क्या करूं तो अभी जो इंट्रडिसीप्लिनरी एजुकेशन की बात सरकार कर रही है नहीं एजुकेशन पॉलिसी में कि आप 11वीं 12वीं में से ही अभी साइंस स्ट्रीम कॉमर्स स्ट्रीम जैसा नहीं रहेगा पर आप मेजर एंड माइनर सब्जेक्ट पसंद कर सकते हो और उसी हिसाब से आप पढ़ सकते हो तो लिबरल आर्ट्स कहलाएगा या उस तरह की डिग्री इंटर डिसीप्लिनरी मल्टीडिसीप्लिनरी एजुकेशन होगा तो वक्त नहीं था मैं उसी को ढूंढ रहा था जो अभी आया है घूम रही है क्या ऐसा क्यों नहीं हो सकता की पोएट्री और मैं साथ में सीखा जाए ऐसे क्यों नहीं हो सकता कि भाई मैं 11 फिजिक्स भी पढ़ो और साथ में मैं थिएटर भी करूं ऐसा ऐसा क्यों नहीं तो अभी धीरे-धीरे पहुंची से आ रही है अब मेरा यह शुरुआत से ही एक ऐसा काम करने कि कि कि अरविंद गुप्ता नाम सुना होगा अरविंद गुप्ता जी जो हैंग आउट 39 लोग जुड़ चुके हैं हुआ रिंगटोन और उसमें कमेंट भी आने लगे हैं जब भी तुम ऐसा तुम्हारा तुम्हारे स्टाइल में कुछ एक स्टेटमेंट मारते हो तो मुझे हॉट्स के इमोजी इस स्क्रीन पर फ्लैश होते हुए दिखाई देते हैं तो पीपल लिसनिंग टू यू एंड रिएक्टिव पूछ रहे हैं सॉरी लेट आने के लिए पर प्लीज बता डीजे किस बारे में बात हो रही है तो शुभ हम बात कर रहे हैं मिहिर से जो कि एक टीचर है पर उससे भी ज्यादा वही क्रिएटिव एक्सप्लोरर हैं और उन्होंने फॉर्मल एजुकेशन ज्यादा नहीं किया है और वही वह अपनी जर्नी शेयर कर रहे थे कि कैसे उन्होंने अपनी लर्निंग खुद डिजाइन की है अभी तक और कैसे वह इंटर्डिक्ट प्रेमी सब्जेक्ट प्रोजेक्ट और सब्जेक्ट की तलाश में हमेशा से रहे हैं जिसकी बात रीसेंट एजुकेशन पॉलिसी करती है और मिहिर कहां काम करते हैं अभी क्या कर रहे हैं पहले उन्होंने क्या किया है इस बारे में बात करें तो आप जुड़े रहिए और अभी हम मिहिर से आगे बात करेंगे उससे पहले मैं ही दे दो चीजें थोड़ी क्वेश्चन एंड पर विश्वास मोर अबाउट यो हनी कि आपने कैसे डिस्कवर किया 125 बता दीजिए फिलहाल आप किन चीजों पर काम कर रहे हैं और फिलहाल दिन कैसे बीता है लोकतंत्र को 2 सालों से मैं भुज में कच्छ भुज आपने सुना होगा गुजरात में एक जगह है तो भुज जो सिटी है उसमें एक स्कूल है जिसका नाम है शिशुकुंज इंटरनेशनल स्कूल स्कूल स्कूल के साथ में जुड़ा हुआ हूं और स्कूल की खासियत यह है या अलग बात यह है कि वहां पर फॉर्मल एग्जाम जो होती है वह आठवीं कक्षा तक नहीं ली जाती है कि किंडर गार्डन से आठवीं कक्षा तक कोई फॉर्मल एग्जाम नहीं ली जाती है और उनकी फिलॉसफी बेसिक किए हैं कि एजुकेशन एनवायरमेंट या लर्निंग एनवायरमेंट ऐसा होना चाहिए जिसमें पियर ना जिसमें जिसमें तुलना यशवर्धन हु कंपीटीशन या कंपैरिजन ना हो एंड रीवार्ड एंड पनिशमेंट मॉडल ना हो ठीक है तो यह तीन चीजों पर यह 3 प्लस पर पूरी फिलॉसफी टिकी हुई है और पुलिस पुलिस पर काम करते हैं कि नहीं होना चाहिए में नहीं होनी चाहिए मैं कुछ कह रहा हूं आप को सुनना इस तरह से दूसरी बात कि आपको कंपेयर नहीं करना है किसी बच्चे को किसी के साथ और एग्जाम ही नहीं है तो तू लाख का कंपटीशन वाली कोई बात नहीं कोई स्पोर्ट्स दे नहीं होता जिससे प्राइस मिलके कोई एनुअल फंक्शन नहीं होता जिसमें फर्स्ट विनर होता है पर हम लोग अन कॉन्फ्रेंस करते ओपन डेज होते हैं जिसमें बच्चे लीड करते हैं और बच्चे अपनी बात शेयर करते तो इस तरह से पूरी ट्रेन चलती है और जो यह स्कूल है उसमें बेसिकली सिटी से भी बच्चे आते हैं कुछ बच्चे के आस-पास के गांव में सभी आते हैं और इसमें कृष्णमूर्ति की फिलॉसफी थोड़ी सी फॉलो करने का हम प्रयास कर रहे थे कृष्णमूर्ति जे कृष्णमूर्ति का नाम जिंदगी नहीं सुना है तुरंत गूगल कीजिए फ्लोर काफी इंटरेस्टिंग प्लस ऑफर है और उन्होंने एजुकेशन के बारे में भी काफी कुछ कहा है उनकी देशभर में अलग अलग खूबी है ऋषि वैली करके स्कूल है बेंगलुरु में जो देश की टॉप मोस्ट स्कूल से मानी जाती है और वह अल्टरनेटिव है थोड़ी सी अलग प्रकार की स्कूल है तो उसके बारे में थोड़ा सा जानना चाहिए अगर आपको इंटरेस्ट हो तो यह स्कूल है और इसमें काफी इंटरेस्टिंग लोग हैं जो अपनी जॉब छोड़ कर भी टीचिंग लाइन में आकर बच्चों के साथ काम कर और मेरे जैसे लोग हैं जो जिन्होंने कभी फॉर्मल या नहीं आज तक वह कैसे मिलोगे तो मैं वहां पर आ छोटे बच्चों के साथ ज्यादा काम करता हूं और उसकी रेट और रेट के साथ लैंग्वेज एक्सप्रेशन पर हम लोग काम करते हैं कि कैसे लैंग्वेज कैसे सीखे जिसने हम लोग एक चीज देना सीखे लाइक हम लोग भूल लैंग्वेज अप्रोचों से कहते हैं कि हम जो चीजें हैं अल्फाबेट जो है वह ऐप्स देखे मतलब ए फॉर एप्पल क्यों बोलना पड़ता है अकेले का कोई मीनिंग नहीं है हमें मीनिंग देना पड़ता है किसी भी चीज को तो हम उस चीज को एक्सपोर्ट करें कि हम ऐसा इमर्सिव है एनवायरमेंट बनाए जिसमें बच्चे लैंग्वेज को एक जॉब कर लैंग्वेज को एक वायर करना कि हमें उसको इंजेक्ट करना पड़ेगा देना पड़े तो हम हम अभी हम अभी लैंग्वेज को दे रहे हो आप उसको पिला रहे हैं कुट्टी की तरह एक दवा की तरह पिला रहे हो भाई देखो इसको अल्फाबेट बोलते हैं इसको ग्रामर बोलते हैं इसको यह पास्ट टेंस बोलते हैं इसको यह टेंस बोलते तो बच्चे उसको अपने अपनी क्षमता के हिसाब से ले रहे हैं पर आप अगर सोचो कि आपके फर्स्ट लैंग्वेज आपकी जो मदर टंग है जिस तरह से आप सीखे हो उसको किसी ने नहीं सिखाया आपको आप फैमिली में रहकर सुनके रिजेक्ट करके उसे एक बार कर लिया हम सेकंड लैंग्वेज सिखाने में यूज कर सकते हैं क्या क्या मैं गुजराती स्पीकर हूं स्पीकर हूं तो क्या मैं हिंदी या इंग्लिश सिखाने के लिए यह टेक्नोलॉजी का यूज कर सकता हूं क्या अभी आप ने बताया कि यह शिशुकुंज का एजुकेशन मॉडल है और उसके फिलॉस्फर मुझे बताइए आप जंगली दिन कैसे बिताते हैं लोग डाउन के दौरान क्लब है वह दूसरे हमारे शिक्षक के रूप विद भाई उनके साथ मिलकर चलाता हूं तुमको बड़ी क्लब में हम लोग एनवायरमेंट रिलेटेड चीजें करते हैं फिर मैं पिक भेज लर्निंग करवाने की पूरी कोशिश करता हूं वहां पर तो यह सब कहां पर होता है अभी की बात करें अभी का दिन आ मेरा कैसे बीता है तो मैं ज्यादातर दिन मेरा जो है वही मेल्स लिख ले में जाता है फिर ब्लॉक ब्लॉक पोस्ट पढ़ने में दूसरे बिजली भी सच में जाता है दुनिया में क्या चल रहा है एजुकेशन सेक्टर में एजुकेशन फील्ड क्या चल रहा है पिक हंड्रेड नाम की वेबसाइट हंड्रेड डॉट ओआरजी करके उस पर यह फिनलैंड की वेबसाइट है फिनलैंड द्वारा बनाई हुई तो उसमें पूरी दुनिया में एजुकेशन में जो इनोवेशन हो रहे हैं वह वहां पर लिस्टेड है तो मुंह में पढ़ता रहता हूं मेरा एक गूगल क्रोम का एक टाइप जो है वह हंड्रेड का खुला ही रहता है मैं हर एक इनोवेशन के बारे में जानता हूं पड़ताल करता हूं कि क्या चीज है और इसमें से मैं क्या हेल्प कर सकता हूं मेरे बच्चों के साथ हम क्या कर सकते हैं हमारे कांटेक्ट में कितना यह बंद बैठता है वह सब मैं रिचार्ज करता रहता हूं दूसरा मेक चाइल्ड डेवलपमेंट मॉर्निंग ग्रुप टाइगर ग्रुप में स्टडी ग्रुप चला रहा हूं तो कुछ स्कूल के टीचर कुछ पेरेंट्स कुछ होम स्कूलिंग फैमिली स्कूल स्कूल के प्रिंसिपल और कुछ नए लोग ऐसे जुड़े एक ग्रुप बनाएं जो बच्चे का विकास कैसे होता है और बच्चे सीखते कैसे हैं उस मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं उसमें स्टडी करना चाहते तो हम लोग हर वीकेंड पर एकदुम कॉल करते हैं जिसमें अलग-अलग टॉपिक सोते हैं उस पर बात करें तो यह एक चलता है जिसमें मैं मेरी सर्च करके अपनी बात पर सेंड करता हूं कोई बुरा कम्युनिटी बंद करने की कोशिश कर रहा हूं इस कारण होती है सभी के लिए कोई अगर उसमें इंटरेस्टेड हो तो मैसेज करना होता है और अपनी अपना बैकग्राउंड थोड़ा सा बताएं और कोई भी जुड़ सकता है इसमें जो भी इंटरेस्टेड लुक है तो हमारी जो लोग सुन रहे हैं हमें भी फोटो छह लोग सुन रहे हैं इनमें से अगर किसी को आपको संपर्क करना है तो आप कौन सा रास्ता सदस्य करेंगे आर एन आई एन जी डब्ल्यू एल लर्निंग वाला जैसे ऑटो वाला होता है वैसे लर्निंग वाला और मेरी वेबसाइट का नाम भी सेम है लर्निंग वाला डॉट कॉम बाकी आप मेरा मोबाइल नंबर ईमेल आईडी कुछ भी एक्सेस कर सकते हो मेरे सारे सोशल मीडिया प्रोफाइल भी वहां पर लिस्टेड है तो कहीं पर भी मैसेज कर दो इंस्टा पे या व्हाट्सएप पर कहीं पर भी और मैं आपको लिंक भेज दूंगा और आप जुड़ सकते हो इसमें या तो यह काम और लास्ट चीज बताओ जो मैं अभी कर रहा हूं एमआईएलएफ का नाम सुना है कि मैं तुम्हें की फेवरेट कब तक इंटर्जेक्शन करना चाहता था कि हंड्रेड डॉट ओआरजी एक बहुत फिनोमिना कम्युनिटी है अभी-अभी कम बिल्डिंग की बात की हंड्रेड डॉट ओआरजी स्कैंडल केस स्टडी इन कम्युनिटी बिल्डिंग उसकी वेबसाइट आप जरूर विजिट करें अगर आप एजुकेशन में इंटरेस्टेड है और आप कम्युनिटी मैनेजमेंट में इंटरेस्टेड हैं एएमआईडी मीडिया लैब बृजेश हमारा जेड फेवरेट या तथा उसके बाद वाला यह दूसरी वाली गर्लफ्रेंड है भाई की वीडियो देखा तो यह ऐसी है ऐसी गर्लफ्रेंड सुन कर रखा है बता रहा हूं वह कभी-कभी बात करती है रे करती पर मेरे फ्रेंड बात करती है वैसा वाला तो मतलब बखूबी समझते हो फ्रेंड जोन का अर्थ और कहे कि मैं बखूबी समझता हूं हो सकता है पर आप धीरे-धीरे एमआईटी मीडिया लैब मेक लाइफ लोंग किंडर गार्डन करके ग्रुप है ग्रुप है तो वहां पर ऐसी चीजों पर रिचार्ज होता है जो आपको क्रिएटिव लर्निंग में हेल्प कर सके ठीक है पाउडर है मिचल रश्मि करके तो मिस रजनी करके जो लेगो अपने बचे खेला होगा कोई कई लोगों ने की लीगो ब्लॉक्स आफ तो यह जो फाउंडर है मित्र सैनिक उसको लेगो प्रोफेसर कहा जाता है तो वह मेडिकल एजुकेशन और लर्निंग में यह जो कंस्ट्रक्टिविज्म करके कह रही है कि बच्चा अपना ध्यान जो है वह कंस्ट्रक्ट करता है एनवायरमेंट के साथ एंगेज करके अपनी सेल्फ को एनवायरमेंट के साथ एडजस्ट करके अपना ध्यान कंस्ट्रक्ट करता है ना कि कोई देता है और वह ले लेता है तो हमारा होता है बालवाड़ी आंगनवाड़ी होता है बच्चे खेलते हैं बच्चे गाते हैं ड्रामा करते हैं कुछ चाहिए तो इसके साथ खेलते हैं और उसमें से सीखते हैं कि बात करो वही पकड़ा किंडर गार्डन में जिस तरह से लर्निंग होता है वैसा क्या लाइफ टाइम हो सकता है क्या ऐसे टूल्स डिजाइन कर सकते हैं क्या जिससे इस तरह का लर्निंग लाइफटाइम रहे क्योंकि जो दूसरी तरह का रूट लर्निंग है हमें लाइफ में कहीं पर काम नहीं आता यह बहुत कम जगह पर काम है जिसमें आप सिर्फ इंफॉर्मेशन याद रखते हो वैसे वाला लर्निंग तो वह चीज हमें बहुत कम जगह पर काम आती है अभी जो फर्स्ट सेंचुरी स्कूल तुम बोल रहे थे ऑपरेशन टीम बिल्डिंग टीम में काम करना आपको आए क्रिएटिविटी कम्युनिकेशन इन वेटिंग थिंकिंग तो यह सारी जो क्रिटिकल थिंकिंग यह सारी चीज है ब्रॉड लर्निंग से नहीं आ सकती उसके लिए ऐसा वाला क्रिएटिव लर्निंग चाहिए जिसमें आप चीजों से अंग्रेज करो एनवायरमेंट से अंग्रेज करो अपने सेल को उसके साथ इन ट्रैक करो और उसमें से सीखो अपना मीनिंग मेकिंग प्रोसेस करो तो इस तरह का काम करने का काम करता है अगर आप किसी को एनिमेशन बनाने में इंटरेस्ट है या अपना खुद एप्स बनाने में या गेम्स बनाने में इंटरेस्ट विद आउट लर्निंग प्रोग्रामिंग तो इसी रिसर्च ग्रुप का एक बहुत बढ़िया प्रोजेक्ट है जिसको स्क्रैच बोलते एस टी आर ए टी सी एच का गूगल करोगे हम आईटी स्क्रैच तो आपको यह सॉफ्टवेयर मिल जाएगा बहुत ही बढ़िया सॉफ्टवेयर है जिसको अब बच्चों को भी सिखा सकते हो यह सॉफ्टवेयर यह ब्लॉक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज लॉक खींचकर आप प्रोग्राम बना सकते हो और आप एनिमेशन गेम मोबाइल एप्स बगैर आईडी सेंड कर सकते हो विदाउट लर्निंग फॉर्मल प्रोग्रामिंग हार्डकोर जो वह काली स्क्रीन पर प्रोग्राम होता है तो वह एक टूल है इसका तो मैं कटु लोंग स्टोरी शार्ट कि अब मैं जो भी का काम कर रहा हूं उसमें एमआईटी मीडिया लैब का क्या रोल है तो भेजो रिसर्च ग्रुप है उसमें से ग्रेजुएट हुए कुछ लोग हैं जिन्होंने अपना एक स्टार्टअप शुरू किया है जो मेकिंग पर मेकिंग एंड टिंकरिंग पर फोकस हैं बिजली मेकिंग करेंगे कि कुछ बनाना कुछ कुछ जुगाड़ करना आया कुछ कुछ चीजों में से नया प्रोटोटाइप बनाना पैसे वाली चीज है उसमें से बच्चे बहुत कुछ सीखते हैं वैसी एक्चुअली अभी चल रही थी और मैं भी उससे काफी डिलीट करता हूं कि अगर आप कोई जैसे कि किसी बच्चे ने कार्डबोर्ड में से कोई कोई ऐसी चीज बनाई जिससे कोई प्रॉब्लम कॉल हो सकता है या मैंने मैंने मेरे जो 3 के बॉक्स से जो जिसमें हम लोग ऑयल भरते हैं वैसे 3 के बॉक्स से उसमें से मैंने फर्नीचर बना दिया उसमें तोहफा बना दिया मेकिंग प्रोसेस कुछ मैंने बनाया उसमें मैंने दिमाग लगाया मैंने मटेरियल के साथ इन ट्रैक किया और यह मेकिंग प्रोसेस है उसमें से मैं काफी सारी स्किल सकता हूं और टेक्निकल के लिए हाथ की स्किन तो सीखता ही हूं और उसमें मुझे सोचने की स्किल क्रिटिकल थिंकिंग कौन सा मैटेरियल यूज करूं यह वाला कि यह वाला कौन सा एंगल पर इसको कट करना है वह सब चीज भी आप दिखते हो तो यह जो ग्रुप है वह यह मेकिंग वाले प्रोसेस को रीमोटली कैसे हो सकता है तो अभी तो काफी सारी स्कूलों में अटल टिंकरिंग लैब या मेकर्स पर्स वगैरह चल रहा है सब पर उसके सिवा जो स्लम में बच्चे हैं जो रूलर गांव में बच्चे हैं या कोई टैटू छोटी सिटीज में बच्चे हैं तो उनके तक कैसे पहुंचाया जा सकते जहां पर अटल टिंकरिंग लैब मेकरस्पेस नहीं पहुंचाए तो उन्होंने यह पूरा प्रोसेस व्हाट्सएप पर कैसे कर सके कि मैं व्हाट्सएप से बना दिया बच्चों के और उस पर वह लोग बिजली का स्ट्रक्चर गाइड में कर गाइड की भैया भेजते बोलो कि आपको ऐसा कुछ बनाना है एक ऐसी कार डिजाइन करनी है जिसमें रीसाइकिलेबल मेटीरियल लगे ठीक है कल मैटेरियल डिजाइन किसी बच्चे ने वाटर बोतल में शिकार बना दी किसी बच्चे ने बॉक्स में शिकार बना दी समथिंग लाइक तो मेरा काम अभी यह है कि मैं यह जो पूरा फैसिलिटेशन होता है कि बच्चे को मैं गाइड भेजता हूं वह उसमें से कुछ सवाल पूछता है वह रफ प्रोटोटाइप बनाकर भेजता है मैं उसमे कुछ सवाल पूछता का अच्छा ऐसा एंगल क्यों लिया आप इसके बारे में क्या सोचते हो इसके बारे में कोई चैप्टर आप की साइंस की टेक्निक में है क्या है तो जाकर पढ़ो तो उसमें से क्या सीखने को मिलता है उसका कोई चीयरी उसका कोई नियम उसका कोई सिद्धांत यहां पर अप्लाई हो सकता है क्या तू फैसिलिटेशन होता है बेसिकली जो इंगेजमेंट होता है बच्चों का तो वह मैं देखता हूं तो मैं अभी तीन चार स्कूलों के साथ यह पूरा काम कर रहा हूं तीन-चार व्हाट्सएप ग्रुप है मेरे पास जिस में 30 30 बच्चे अरे ग्रुप में है और वह मैं हर एक वीकेंड पर गाइड भेजता हूं उनको और फिर उनके प्रॉन्प्ट रिप्लाई आना शुरू हो जाता है कि मैंने यह बनाइए कर रहा हूं यह कर रहा हूं मैं उनको फैसिलिटेट कर्ताओं की इसको ज्यादा अच्छी तरह से कैसे बनाया जाए उसमें सचिन की बनाने के सिवा जो बनाने के समय जो थिंकिंग प्रवचन करना होता है कि मैं उसको एक ऐसे-ऐसे सवाल पूछना जिससे वह सोचने की प्रक्रिया शुरू हो तो वह मैं पूरा काम करता हूं तो मेरा काफी सारा टाइम है उसमें भी जाता है यह यह पूरा प्रोसेस करने में और मैं देखना चाहता हूं कि यह रिमोट की कैसे हो सकता है और यह कोई उसमें मैं काफी सारा समय रिसर्च और ऐसे थोड़े छोटे बड़े प्रोजेक्ट में जाता है ओके स्टार्टअप का नाम क्या बताया आपने जो आपने कहा कि m.i.t. राइट इसका नाम है अनस्ट्रक्चर्ड स्टूडियो तो आप गूगल कर सकते हो अनस्ट्रक्चर्ड स्टूडियो जिसमें यह प्रोजेक्ट प्रोजेक्ट का नाम है कृति डॉट ओआरजी यूआरएल बदन स्ट्रक्चर स्टूडियो डाइट अनस्ट्रक्चर्ड स्टूडियो तो एक है और इसमें इसका प्रोजेक्ट का नाम है कृति क्योंकि क्रिएशन को कृति कहते हैं इंटरेस्टिंग और नीच इंफॉर्मेशन जो आमतौर पर मींस इन मीडिया में चाहे वह एजुकेशन फोकस थी वेबसाइट या ब्लॉग ना हो वैसे ही काफी सारी इंटरेस्टिंग और मिशन कमीशन आपने शेयर किया कुछ 125 और सवाल पूछना चाहूंगा अभी हमारे साथ 55 लोग जुड़ चुके हैं एनीथिंग की आधे वाइस काफी डिफिकल्ट होता है अपने शेड्यूल से समय निकालकर इतनी परमिशन लेना तो क्योंकि आप अभी हम बात ही कर रहे हैं तो आई वुड लाइक यू टू शेर की ऐसी कौन सी इंटरेस्टिंग स्कूल से इंडिया में जो आपको बहुत हंसने टिंग लगती हो जिसके बारे में और लोगों को पता होना चाहिए ऐसी तीन फूल के बारे में मुझे बताइए राइट राइट सोम इंटरेस्टिंग स्कूल जो है ब्रॉडकॉम आपने मेरे सामने रखा मेरे लिए बहुत सारा लंबा लिस्ट इंटरेस्टिंग में में गिराने जाऊं तो आप हमें तीन आपने जो पूछा है वह करने की कोशिश करता हूं उससे पहले खाली एक लाइन में मैं यह बताना चाहूंगा कि किस-किस तरह की स्कूल इंडिया में है और मैं खाली 3 का नाम तो मैं तो यह जो टर्म्स में बोलने जा रहा हूं वह शायद कई सारे लोगों ने पहले ना सुने हो पर आप गूगल करके उसके बारे में ज्यादा जान सकते हैं मुझे लिख सकते हो या मैसेज कर सकते हो तो मैं उसके बारे में डिस्कशन कर सकता हूं आगे तो भेजी है कि भाई एजुकेशन में जो हमारे वैदिक काम समझे सुनेंगे प्राइवेट स्कूल होता है गवर्नमेंट स्कूल होता है पब्लिक स्कूल इमेज स्कूल के बारे में बात करने वालों को है डेमोक्रेटिक स्कूल या अनस्ट्रक्चर्ड स्कूल या या स्कूल इन ग्रुप या होम स्कूलिंग ग्रुप ऐसी सारी चीजें भी एक फॉर्म स्कूल है 111 फॉरेस्ट फॉरेस्ट स्कूल है एक ओपन स्कूल है इस तरह के और यह सब को अल्टरनेटिव स्कूल्स इन एजुकेशन या अल्टरनेटिव लर्निंग एनवायरमेंट अल्टरनेटिव लर्निंग सेंटर कहा जाता है आपको बताएं से ऐसी जगह है जहां पर कोई इंफॉर्मेशन इंफॉर्मेशन रात के या या कोई मार के या डरा के बच्चों को पढ़ाया नहीं जाता पर ऐसे एनवायरमेंट क्रिएट किया जाता है जहां पर बच्चे रियल लाइफ चीजों से इन ट्रैक करके अपने इंटरेस्ट के हिसाब से पढ़ सके सीख सके पढ़ना भी मैं नहीं बोलूंगा सीख सके और इसमें कोई अथॉरिटी नहीं होती कोई बड़ा या छोटा नहीं होता एक कॉमेडी होती है जिसमें एडल्ट्स एंड बच्चे साथ में मिलकर सीखने की प्रक्रिया करते हैं मीनिंग मेकिंग प्रोसेस करते और यह खाली एजुकेशन के बारे में नहीं है इट्स अबाउट होल लाइफ स्टाइल सस्टेनेबिलिटी के बारे में बात कर लो कि वह हमारा खाना हमारा कपड़ा हमारा मीडिया हमारा हमारा एजुकेशन वह सबको क्वेश्चन किया जाता है जो भी हमारा हमारे लाइफ में मैटर करते वह सारी चीजें क्वेश्चन की जाती और एक अलग तरीके से जीने की कोशिश करने की कम्युनिटी होती तो वैसी वाली स्कूल के बारे में तो 1 में सबसे पहला नाम लेना चाहूंगा बेंगलुरु में बेंगलुरु के अवसर पर स्कूल है जिसका नाम है आरोही आरोही ओपन लर्निंग सेंटर करके इसका नाम है गूगल करोगे तो आपको यह उसकी वेबसाइट मिल जाएगी जिसका नाम है आरोही ओपन लर्निंग सेंटर काम करते फिर बेंगलुरु में है जिसका नाम कृष्णमूर्ति फाउंडेशन ने शुरू की है और फिर मैं नाम लेना चाहूंगा बेंगलुरु में एक स्कूल है और मैं लूंगा उसमें काफी सर एक्सप्रेस साउथ के नाम ज्यादा याद आ रहा कि हमारा स्कूल भी आप इंटरेस्टिंग लिए सर्च कर सकते हैं शिशुकुंज इंटरनेशनल स्कूल वह भी एक थोड़ा सा अल्टरनेटिव काइंड ऑफ स्कूल है काफी इंटरेस्टिंग रहो विश्व में होते रहते तो यह अब तक आ सकता तो मैंने तीन नाम दिए तो ऋषि वैली आप जरूर देखें और अदिति और रितेश का आरोही करके कह दे कि आप और हमारा एक शिशुकुंज स्कूल है वह आप देख इंटरनेशनल स्कूल एजुकेशन एस के नाम बताइए जो इंडियन है और उनकी फिलोसोफी आपको काफी इंप्रेस करती है और आप चाहेंगे कि और लोग भी उनके बारे में पड़े तो आ चुके क्या बोलते फिर से बोलो तो उसको क्या पता होगा एजुकेशन के बारे में मुझे बोल दिया क्या तुमने मेरे को एजुकेशन उसका प्रनंसीएशन पूछा और खुद शिक्षाविदों यह डिफिकल्ट बताओ पहले हां शिक्षाविद यारी जो यह जो चीज थी उसी का हिंदी में लिख करने की कोशिश की तो अभी काम करते वैसे लोगों का बताओ या वेस्ट में जो हो गए वैसे वाले लोगों का नाम बताओ हमारे पास अभी 2 लोग जुड़ गए हैं इन लोग को हम हमेशा मान रहे हैं कि वह इस कन्वर्सेशन में बहुत इन जींद हैं और यह कौन विशेषण होने के बाद दूध थोड़ा समय कुछ सर्च करने में स्पेन करेंगे तो कौन हो जो आप चाहेंगे कि यह राइट ओके गॉट इट सबसे पहला नाम में लेना चाहूंगा रुडोल्फ श्टाइनर आपकी इंडियन वाला जो कांस्टेंट है उसके थोड़े मैं बाहर जा रहा हूं पर यह है कि वह जानने में मजा आएगा लोगों को और काफी इंटरेस्टिंग रहेगा तो रुडोल्फ श्टाइनर जो है उन्होंने वर्ल्ड करके का एजुकेशन सिस्टम शुरू की थी जो वैदिक उनका कांटेक्ट यह है कि भाई हम ज्यादातर लेफ्ट ब्रेन पर फोकस करते यानी लॉजिक है एनालिसिस ए क्रिटिक उस पर ज्यादा फोकस का टाइम राइट ब्रेन जिसमें क्रिएटिविटी आता है लैंग्वेज आती है जिसमें संवेदनाएं आती है अफेक्ट यूरोप में नाते उस पर कम फोकस किया जाता है तो यह दोनों का बैलेंस करके एक एजुकेशन सिस्टम कैसा हो उसे उन्होंने काफी काम किया तो इंडिया में काफी सारी वर्ल्ड स्कूल है मुंबई में भी हैदराबाद में है पुणे में है बरोड़ा में हैदराबाद में है तो यह सारी जगह पर छोटे-छोटे पॉकेट में यह काम हो रहा है तो अगर आप शहर में रहते हो और कुछ अलग अपने बच्चे के लिए सोच रहे हो कि भाई मुझे यह कन्वेंशनल स्कूलिंग में नहीं भेजना है तो एक अल्टरनेटिव हो सकता है वॉलडॉर्फ एजुकेशन सिस्टम तो आप इसके बारे में सर्च करना दूसरा मुझे लगता है कि कल काम हो रहा है एजुकेशन में खास करके बोलना चाहूंगा मनीष जैन जिसका जिसके बारे में आपको जानना चाहिए कि इंडिया में ऐसी यूनिवर्सिटी यूनिवर्सिटी नहीं बोलूंगा पर मल्टीवर्सिटी को वर्ष की बिक्री नहीं देती है सर्टिफिकेट नहीं देती है पर आप उसमें काफी इंटरेस्टिंग तरीके से सीख सकते हो वैसे यूनिवर्सिटी है आप सर्च कर सकते यूनिवर्सिटी उदयपुर सर्च कर सकते हो आप जो जिसमें से आपको काफी इंटरेस्टिंग चीजें समझने को जानने को मिलेगी और तीसरा नाम जो मेरे को पर्सनली बहुत अभिमान है वह कृष्णमूर्ति है जे कृष्णमूर्ति उनके विचार आपको इन जनरल लाइफ के बारे में क्वेश्चन करने के लिए सेल्फ इंक्वायरी के लिए आपको बहुत रोज करेंगे वह बहुत अपील करेंगे आपको और जिन लोगों को लॉजिक ज्यादा पसंद है इंजीनियर और कोर्ट में काम करते हैं जिनको कन्वेंस करने के लिए लॉजिक चाहिए वैसे लोगों को कृष्णमूर्ति के विचार जो है वह काफी पसंद आएगी वो एकदम लॉजिकली बात करता है पर लॉजिकली संवेदना के बारे में बात करने लॉजिकली अफेक्टिव डोमेन के बाद अफेक्टिव डोमेन की बात करते हैं ऐसे लोग बहुत कम देखें तो मैं हां अफेक्टिव डोमेन का मतलब यह है कि जैसे कि साइंस है ठीक तो है आपके ब्रेन का वह लॉजिक है कि मैं यह चीज कैसे हो रही है इसके पीछे के कॉज एंड इफ़ेक्ट ऑफ़ ढूंढते हो तो क्या फील होता है उसके बारे में यह पूरी बात हो रही थी उसको अफेक्टिव डोमेन भी आता है आपके वैल्यू भी आते हैं तो वह जो पूरा पार्ट होता है ब्रेन के बीच की जो लड़ाई होती है उसमें यह हाइट वाला पार्ट है बेबी कलेक्टिव में इसको बोलते और मूर्ति लॉजिकल तरीके से समझाते हैं इसलिए आप कहना है कि वह कन्विंसिंग लगता है ज्यादा आपको काफी लॉजिकली समझाएंगे और वह बोलते हैं कि इन दोनों का मिक्सचर होना चाहिए हॉट एंड प्रिंट का मिक्सर होना चाहिए तब आदमी या औरत या कोई भी पसंद एक सेंसिटिव इंसान बन पाएगा हम सेंसिटिव को सिर्फ इमोशन पर डाल देते कि यह तो बड़ा संवेदनशील है पर उसका मतलब यह नहीं है कि भाई वह किसी बात पर रो देता है या किसी बात पर जल्दी खुश हो जाता है उसका मतलब संवेदनशील हुआ संवेदनशील कि जिस को पूरे एनवायरमेंट का पूरी जो गतिविधि हो रही है उसका पूरे पूरा ज्ञान है वह पूरी पूरा जॉब कर रहे हो और फिर निर्णय ले रहा है फिर भी मोशन मैं आकर निर्णय नहीं ले रहा है सिर्फ लॉजिक तो निर्णय नहीं ले रहा है या सिर्फ अपनी बॉडी के जो मरी पंच इंद्रियां होती है 5 सेंसेज होती है उससे ड्रिवन निर्णय एक्शन नहीं ले रहा है इन सबको मिलाकर आप आप बॉडी से भी सोचते हो आप हॉट से भी सोचते हो अब ब्रेन से भी सोचते हो और उन सबको मिलाकर आप जो एक्शन ले रहे हो उसको संवेदनशील इंसान बोलते हो और कृष्णमूर्ति यह बोलते कि स्कूल का काम ऐसे संवेदनशील इंसान कल्टीवेट करना है उनको संवेदनशील बनाना है जिससे यह जो बड़े-बड़े प्रॉब्लम से अभी एक क्लाइमेट चेंज ले लो या कोई भी प्रॉब्लम दुनिया का ले लो वह स्पेशल हो सकता है इसलिए मैं एजुकेशन को इतना पावरफुल मीडियम या टूल मानता हूं या जैसे नेल्सन मंडेला का साबुन है जिससे हम दुनिया के काफी सारी प्रॉब्लम सॉल्व कर सकते बिकॉज इट्स अबाउट ह्यूमन अबाउट टाइगर है आप मनीष जैन को सर्च कर सकते कृष्णमूर्ति हैं जो आपने भी बात कही है दम फुल नोटिफिकेशन पड़े हमारे साथ 64 लोग जुड़ चुके हैं नाम शोर की रिकॉर्डिंग लाइव सेशन और होने के बाद रिकॉर्डिंग फॉर्म में भी यह बातचीत और लोगों तक पहुंचेंगे काफी लोगों ने कमेंट में जवाब दिए हैं मैं एक आपके लिए पढ़कर सुना रहा हूं जो आपको सुनकर अच्छा लगेगा दीप कहते हैं गांव में आई नेवर थॉट पीपल प्लांट टू मच अबाउट इक्वेशन ऑफ कास्ट इन मिराज डेफिनटली पुट लाइट ओन ए आई डी एस लाइक दिस टू स्कूल शुड बी rally.in कमीनी तो मैं जानता नहीं कि 64 की 64 लोग कितने कन्वेंशन इन फ्लोरेंस हुए हैं जीव डेफिनेट मोटिवेटेड हैं दीपिक नृत्य मीर अनीस कौशल हैंडल लर्निंग वाला इंस्टाग्राम या बाकी वेबसाइट पर आउट 7 मिनट से बातचीत की और मैं कहूंगा कि मुझे कहीं पर भी ऐसा नहीं लगा कि इंटरेस्टिंग बात नहीं की जा रही है नाम छोड़ देना मूर्ति मैं आपको पहचानता हूं दो चीजों की बात एक्सप्लेन स्पेसिफिक कन्वर्सेशन किस बारे में बात करते हो जहां पर प्रति पेज वन पर्सन हु इज डेफिनटली गोइंग टू रिक्वेस्ट ऐसे ही बाकी लोग भी उत्सुक होंगे आपसे बात करने के लिए थैंक यू सो मच एंड थैंक यू सो मच कि आप इस समय निकाला बहुत ही शॉर्ट नोटिस पर डे स्पेशल ई एम थैंकफूल टो यू फॉर तो दो लाइन में शेयर करना चाहो तो मेरा धन्यवाद क्या आप सब भी समय निकालकर जुड़े और मनोहर बहुत आनंद है मुझे और लास्ट जो हाइक आनंद गांधी के बारे में बात करनी थी पर वह टॉकिंग बोर्ड ऑफ एजुकेशन में जो बदलाव हो रहे हो और हम कैसे कर सकते हमारे बच्चों के लिए कुछ भी आप सोच रहे हो और आपको रिचार्ज करना है कि हम क्या कर सकते कुछ नया और किस तरह के प्रयोग इंडिया में हो रहा है तो बिल्कुल भी चेकअप रिचार्ज कर सकते हैं और और मैं मैं बहुत खुश होगा आपके साथ बात करके और आपको मेरे मेरे जो भी रिसोर्सेज से मुझे भेजो इंफॉर्मेशन है मेरे कनेक्शन से वह आपके साथ चार तुम्हें बस यही कहना चाहूंगा कि सबसे कि बिल्कुल आप एजुकेशन के बारे में सोचिए और कुछ अपने जीवन में से थोड़ा सा समय निकाल दी और नया टोन हो सकता है आपकी लाइफ में तो उसके बारे में सोचिए और शेयर भी कीजिए थैंक यू सो मच माय स्पीकिंग मिलते हैं अगली बार एक और सेशन बैटरी भेजो मैं डेफिनेटली आपको बुलाने वाला हूं थैंक यू थैंक यू